Types of Computer Hindi
74 / 100

Types of Computer Hindi: computer के type के बारे में आज किस पोस्ट में हम जानकारी लेने वाले हैं। सबसे पहले तो हम सभी जानते हैं. Computer क्या है? और इसकी features क्या है?

यदि इसके बारे में नहीं पड़ा तो एक बार जरूर पढ़ ले. इसी के साथ हम सभी Computer को चलाते हैं. तो हमें इसके प्रकार के बारे में भी जानकारी होनी जरूरी है.

इसीलिए आज की इस पोस्ट में, मैं आपको Computer के कुछ विशिष्ट प्रकार जिन्हें हम मुख्य types भी कह सकते हैं. आज के इस लेख में Computer के विभिन्न प्रकार के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे।

इसी के साथ हम प्रत्येक Computer के भाग में छोटे और बड़े दोनों Computer के बारे में जानकारी लेने वाले हैं. तो चलिए आगे बढ़ते हैं. computer के type को समझने से पहले हमें computer क्या है? उसके बारे में भी समझने की जरूरत है. इसके लिए आप पिछली पोस्ट को पढ़ सकते हैं. जिसमें computer की definition और विशेषता बताई गई है.

इसी के साथ computer में कुछ component शामिल होते हैं. जैसे memory जिसको storage भी कहा जाता है. इसी के साथ input output device भी होते हैं. और सबसे महत्वपूर्ण hardware का part Central Processing Unit जिसका short form CPU होता है. इनके बारे में भी हम चर्चा करेंगे।

कीबोर्ड क्या है? | What is a Keyboard in Hindi

Computer Kya Hai? बेसिक जानकारी 

कम्प्यूटर के प्रकार- Types of Computer in Hindi

computer के type के बारे में आप सभी को जानकारी लेने की बहुत ही उत्सुकता होगी। तो चलिए अब शुरू करते हैं. इसको शुरू करने से पहले जितने भी computer हैं। उनको किस किस category में divided किया गया है. उसके बारे में पहले जान लें उसकी पूरी list नीचे दी गई है.

Basis of work

कार्य के आधार में कंप्यूटर को तीन भाग में विभाजित किया गया है. जिनमें Analog Computers, Digital Computers, Hybrid computers आते हैं.

1. Analog computer

Analog computer सबसे पुराना कंप्यूटर है. इस कंप्यूटर का प्रयोग analog signal के रूप में information display करने के लिए होता था. यह कंप्यूटर मेजरमेंट के लिए सबसे ज्यादा प्रयोग किया गया.

जैसे temperature जांचने के लिए voltage का पता लगाने के लिए depth नापने के लिए आदि मुख्य रूप से किया जाता था. इस कंप्यूटर में सबसे ज्यादा quantity का मेजरमेंट किया जाता था. इसमें हम physical quantity का इस्तेमाल करके बहुत सी चीजों का मेजरमेंट कर सकते हैं. लेकिन अभी के समय यह कंप्यूटर शायद कुछ ही जगह हमें प्राप्त होंगे।

2. Digital Computers

Digital computer fifth generation के computer है. इन कंप्यूटर को हम सभी चलाते हैं। इसके बारे में यदि बात करें तो laptop desktop जैसे जितने भी कंप्यूटर हैं. उन सभी को digital computer कहते हैं.

इन कंप्यूटर को प्रयोग करना आसान होता है. यह कंप्यूटर operating system के माध्यम से संचालन होते हैं. इन कंप्यूटर में Storage, input, output आदि सभी का प्रयोग होता है. यह कंप्यूटर binary digits के माध्यम से सिग्नल को समझते हैं।

इन कंप्यूटर में हम graphic designing picture आदि. के माध्यम से कार्य कर सकते हैं. इनमें वह सभी चीजें होती हैं जो analog computer में नहीं होती है.

3. Hybrid computers

Hybrid computers ऊपर बताए गए कंप्यूटर से फर्क होते हैं. इन कंप्यूटर में analog computers and digital computers का combination होता है. यह कंप्यूटर विशिष्ट किस्म के होते हैं।

सामान्यतया इन कंप्यूटर को हम इंडिविजुअल रूप से प्रयोग नहीं करते हैं. ऐसे कंप्यूटर factories, hospitals, railway stations, airplanes आदि में प्रयोग किए जाते हैं. उदाहरण के लिए हॉस्पिटल में CT scan and MRI करने वाली मशीन को hybrid computer में रखा जाता है।

इसलिए यह कंप्यूटर विशिष्ट खाल के माने जाते हैं. इनकी कीमत crores में होती है.इसलिए इनको सिर्फ एक organization और कंपनी ही खरीद सकते हैं और यह कंप्यूटर अलग-अलग countries से मंगाए जाते हैं. जहां इनकी manufacturing होती है.

Basis of purpose

उद्देश्य के आधार में Computer को दो भागों में विभाजित किया गया है. जिसमें General Propose Computers and Special Propose Computers आते हैं

1. General Propose Computers

general purpose के लिए प्रयोग किए जाने वाले कंप्यूटर को General Propose Computer. कहते हैं. ऐसे computer normal work के लिए प्रयोग होते हैं। इन्हें office और company में प्रयोग किया जाता है।

इन Computer के माध्यम से data entry, data management, manufacturing, security systems, editing, designing आदि जैसे कार्यों के लिए प्रयोग करिए किया जाता है.

ऐसे computer सामान्य काम को ही execute कर सकते हैं. इसलिए इनका प्रयोग सामान्य काम के लिए ही किया जाता है.

2. Special Propose Computers

specific task में प्रयोग होने वाले कंप्यूटर को special purpose computers कहते हैं. यह कंप्यूटर specific tasks के लिए प्रयोग होते हैं. इसके नाम से ही हमको यह पता चल जाता है.

कि ऐसे कंप्यूटर बड़े-बड़े कार्य करने के लिए प्रयोग किए जाते हैं. जैसे video games बनाने के लिए कोई system बनाने के लिए satellite tracking करने के लिए आदि जैसे बड़े-बड़े विशिष्ट कार्य करने के लिए प्रयोग होते हैं. जिन्हें हम विशिष्ट उद्देश्य computer कहते हैं.

इनका काम बड़ा होने की वजह से ऐसे कंप्यूटर महंगे होते हैं. और इनको खरीदने के लिए बड़ी-बड़ी कंपनियों के साथ collaborate करना होता है. यह कंप्यूटर सामान्य लोग नहीं खरीदते हैं. क्योंकि इनको खरीदने की क्षमता सिर्फ किसी organization और कंपनी के पास ही होती है. क्योंकि उन्हें ऐसे कंप्यूटर की जरूरत होती है.

Basis of size

आकार के आधार में कंप्यूटर को पांच भागों में विभाजित किया गया है. जिसमें Super Computer, Mainframe Computer, Mini Computer, Micro computer and Desktop computer आते हैं.

1. Super Computer

Supercomputer सबसे बड़े कंप्यूटर होते हैं. यह कंप्यूटर multiple purpose के लिए प्रयोग किए जाते हैं. यह सबसे ज्यादा data को स्टोर करने के लिए प्रयोग होते हैं। इनको बड़ी बड़ी कंपनी प्रयोग करती हैं. जिन्हें बहुत ज्यादा डाटा को स्टोर करके रखना पड़ता है.

उदाहरण के लिए Google, Facebook, YouTube को ले सकते हैं. क्योंकि यह दुनिया भर में अपने यूजर के लिए free में data center प्रोवाइड कर आते हैं। इनके पास जितना भी data आता है.

उन्हें सुपर कंप्यूटर के माध्यम से स्टोर किया जाता है. क्योंकि प्रत्येक दिन करोड़ों लोग अपना अकाउंट और उसमें detail डालकर channel और account आदि बना रहे होते हैं. सुपर Computer की storage capacity बहुत ज्यादा होती है.

यह कंप्यूटर millisecond से भी कम समय में instruction आदान प्रदान करते हैं. उदाहरण के लिए जब भी हम अपना Facebook account ओपन करते हैं तो हमें पता ही नहीं चलता है कि वह कब खुल गया। इतनी स्पीड को बरकरार रखने के लिए सुपर कंप्यूटर का प्रयोग किया जाता है.

2. Mainframe Computer

Mainframe computer भी super computer के जैसे होते हैं. लेकिन यह super computer से कम गति में काम करते हैं. इन computer की processing क्षमता थोड़ी बहुत कम होती है. यह कंप्यूटर बड़ी बड़ी कंपनी और इसी के साथ government, private and banking sectors में प्रयोग किए जाते हैं. जहां user को सर्विस दी जाती है.

उन्हीं के लिए इन कंप्यूटर का प्रयोग होता है. ताकि डाटा एक्सेस करने में उन्हें आसानी हो और कारोबार करते समय किसी भी चीज की समस्या ना आए हम सभी ने mobile banking, internet banking आदि का प्रयोग किया होगा। इनको एक्सेस करने के लिए हमें login करना पड़ता है. उसका डाटा स्टोर करने के लिए ऐसे कंप्यूटर का प्रयोग किया होता है.

3. Mini Computer

mini computer का साइज mainframe computer से छोटा होता है. और यह microcomputer से बड़े होते हैं. इनकी कीमत mainframe computer से अत्यधिक कम होते हैं. यह लगभग computer के जैसे ही होते हैं.

इनको हम आसानी से खरीद सकते हैं। इन्हें ज्यादातर office में प्रयोग करने के लिए किया जाता है। किसी के साथ इनमें एक से ज्यादा CPU का इस्तेमाल होता है. यह ऐसे computer है. जहां एक समय में एक से ज्यादा व्यक्ति हरु कार्य कर सकते हैं। इनका भी प्रयोग कंपनी के कार्य government office के काम बैंक के काम के लिए किया जाता है.

4. Micro computer

Micro computer का विकास सन 1970 के बाद से शुरू हुआ था। यह computer का साइज बहुत ही छोटा होता है. इसको हम अपने टेबल के ऊपर रखकर चला सकते हैं जिन्हें हम Micro computer कहते हैं.

माइक्रो कंप्यूटर को हम desktop computer भी कह सकते हैं. क्योंकि यह लगभग उसी के आकार के होते हैं. इनमें Microchip का प्रयोग किया गया होता है. और इसमें सीपीयू चिप का भी प्रयोग किया होता है। यह कंप्यूटर mall और college आदि में प्रयोग किए जाते है. इनकी मदद से accounting, digital marketing, online working आदि काम किए जा सकते हैं.

5. Desktop computer

Desktop computer fifth generation के computer हैं. यह लगभग microcomputer के जैसे ही हैं. इन्हें हम microcomputer भी कह सकते हैं। इन computer को हम school, college, home आदि में प्रयोग कर सकते हैं।

इनका काम accounting, data entry, data storage आदि personal रूप से करने के लिए किया जाता है. इनको हम professional और personal दोनों के लिए कर सकते हैं.

इन्हीं के साथ laptops भी चलन चलती में है. जिन्हें हर कोई प्रयोग कर सकता है। अभी के समय इनका प्रयोग data storage, accounting work, video editing, designing gaming आदि के लिए प्रयोग हो रहा है. अन्य विभिन्न कार्य इसके माध्यम से हम कर सकते हैं.

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल (Frequently asked questions)

1. कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं?

कंप्यूटर को अलग-अलग तरीके से परिभाषित किया गया है. ऐसे में कंप्यूटर के प्रकार की बात करें तो इनको कैटेगरी अनुसार तीन प्रकार में विभाजित किया गया है. Analog Computers, Digital Computers and Hybrid Computers etc.

Conclusion

Finally कंप्यूटर के प्रकार की complete information आपको इस पोस्ट में मिल गई होगी। जहां हमने computer के विभिन्न प्रकार के बारे में जानकारी प्राप्त की, विभिन्न आधार मैं computer को विभाजन किया गया है।

ऊपर बताए गए जितने भी प्रकार हैं, इसके अलावा कोई छूट गया है। तो हमें comment करके जरूर बताएं।

आने वाली नई पोस्ट के लिए वेबसाइट को सब्सक्राइब कर ले, और पोस्ट को पढ़ने के बाद अपना कमेंट देना ना भूलें। Thank you

Rate this {Do Not forget to give Rating}

Similar Posts