Scientific way of Studying in Hindi
70 / 100

Scientific way of Studying in Hindi : हमारा मस्तिष्क हमें रंगीन चीजों, बड़ी चीजों, दैनिक जीवन से मनोरंजक चीजों और हमारे जीवन से बेहतर चीजों की याद दिलाता है, इसलिए हमें पढ़ाई करते समय तकनीकों का उपयोग करना होगा। ताकि हम चीजों को बेहतर ढंग से समझ सकें और परीक्षा में अच्छे से याद और लिख सकें।

जब हम अध्ययन करते हैं तो कई बार कई मुद्दे कई बार कठिन होते हैं। कभी किसी टॉपिक को समझने में दिक्कत होती है, कभी हम भूल जाते हैं तो कभी पढ़ाई में मन नहीं लगता। कभी-कभी हम परीक्षा में भाग लेते हैं, लेकिन हमें कम अंक मिलते हैं; इसलिए कभी-कभी हम तनाव में आ जाते हैं। आखिर क्या करें कि हमें अपना ज्ञान बढ़ाना है और सरल करना है। इसके लिए वैज्ञानिक हमें कुछ ऐसे तथ्य बताते हैं, जो हमें अध्ययन करने में मदद करते हैं। बीच में ब्रेक लें:

Scientific way of Studying in Hindi

पढ़ाई के दौरान हर 40 से 50 मिनट में ब्रेक लें। आप ब्रेक पर आराम कर सकते हैं, योग कर सकते हैं, कहीं चल सकते हैं और आराम कर सकते हैं। याद रखें, आपको किसी से बात करने की जरूरत नहीं है; आपको पढ़ाई के माहौल से बाहर जाने की जरूरत नहीं है और न ही दिमाग को बेवकूफ बनने देना है। आप संगीत भी सुन सकते हैं और पानी जरूर पी सकते हैं। ब्रेक 5 मिनट से अधिक नहीं होना चाहिए। निम्नलिखित प्रभावी अध्ययन तकनीकें हैं, कैसे प्रभावी ढंग से अध्ययन किया जाए और कैसे अच्छी तरह से अध्ययन किया जाए।

Related:

अपनी गलतियों से कैसे सीखें

छात्र के लिए मनोवैज्ञानिक अध्ययन तरीके

अपने आपको Motivate कैसे रखे?

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाये

सुबह जल्दी कैसे उठें

अध्ययन करनेके वैज्ञानिक तरीके किया है

Make Daily Notes:

पढ़ते समय आपको जो कुछ भी महत्वपूर्ण लगता है, उसके नोट्स बनाएं, उन्हें हाइलाइट करें, अलग-अलग कॉलम का उपयोग करें, चित्र बनाएं और चार्ट भी बनाएं। अपने मन की एक काल्पनिक तस्वीर मज़ेदार तरीके से बनाएं, जो आपको दैनिक जीवन से जोड़े। पहले कठिन उत्तर को सरल करें और फिर उसे बिंदु पर याद रखें। हमारा दिमाग कठिन चीजों को नहीं समझता है, इसलिए हमें पहले कठिन उत्तरों को सरल बनाना होगा।

चाहे हम अपने दोस्त की मदद से हों, किसी शिक्षक की मदद से हों या फिर वीडियो की मदद से इसे समझने की कोशिश करें। हमारा मस्तिष्क हमें रंगीन चीजों, बड़ी चीजों, दैनिक जीवन से मनोरंजक चीजों और हमारे जीवन से बेहतर चीजों की याद दिलाता है, इसलिए हमें पढ़ाई करते समय तकनीकों का उपयोग करना होगा। ताकि हम चीजों को बेहतर ढंग से समझ सकें और परीक्षा में अच्छे से याद और लिख सकें।

Revision is important:

जब आप सबसे अधिक ऊर्जावान होते हैं, तो कठिन चीजों को समझने की कोशिश करें। जब समझ में न आए तो किसी की मदद से सुलझा लें। जब तक हमने अध्ययन किया है, तब तक इसका 10 प्रतिशत हिस्सा कुछ अंतराल के बाद पुनरुद्धार के लिए दें। पुनर्जीवित करना अत्यंत आवश्यक है। मान लीजिए आपने 60 मिनट पहले पढ़ाई की है। इसलिए शाम को 10 मिनट का रिवीजन करें। रिवीजन में, आप महत्वपूर्ण बिंदुओं को फिर से पढ़ सकते हैं। कुछ प्रश्न हल हो सकते हैं। आप इसे स्वयं समझा सकते हैं। इस तरह के रिवीजन से आपकी याददाश्त में स्थिरता आएगी।

Take Self-Exam:

जब भी आप पढ़ना न चाहें, लिखने का अभ्यास करें, नोट्स बनाएं, चार्ट बनाएं, अपनी परीक्षा लें और शेष कार्यों को पूरा करें। आपको कुछ समय बाद पता नहीं चलेगा और आपने अपने मन का अध्ययन करना शुरू कर दिया है। किसी भी कठिन चीज को सरल बनाने का सबसे अच्छा तरीका है दूसरों को कठिन विषय पढ़ाना, इससे हमारा आत्मविश्वास बढ़ता है और हमारे कठिन बिंदु हमें ज्ञात होते हैं। तब वे हमें जल्दी समझ जाते हैं।

Related:

बोर्ड परीक्षा टिप्स और ट्रिक्स

पढ़ाई के लिए टाइम टेबल कैसे सेट करें

परीक्षा में टॉप कैसे करें

निबंध कैसे लिखें

5/5 - (2 votes)

Similar Posts